लिखिए अपनी भाषा में

SCROLL

FREE होम रेमेडी पूछने के लिए फ़ोन करें 09414989423 ( drjogasinghkait.blogspot.com निशुल्क - मनोरंजन हेतू ब्लोग देखे atapatesawaldrkait.blogspot.com निशुल्क - myphotographydrkait.blogspot.com ) (१)व्यक्ति पहले धन पाने के लिए सेहत बरबाद करता है ,फिर सेहत पाने के लिए धन बरबाद करता है (२)अपने आप को बीमार रखने से बढ कर कोई पाप नहीं है (३)खड़े-खड़े पानी पीने से घुटनों में दर्द की शिकायत ज़ल्दी होती है ,बैठ कर खाने- पीने से घुटनों का दर्द ठीक हो जाता है (४)भोजन के तुरंत बाद पेशाब करने की आदत बनायें तो किडनी में तकलीफ नहीं होगी (५)ज़बडा भींच कर शौच करने /पेशाब करने से हिलाते हुए दांत/दाड़ पूरी तरहां से जम जाते हैं (६)महत्त्व इस बात का नहीं की आप कितना ऊँचा उठे हैं (तरक्की की ),महत्त्व इस बात का है की आपने कितने लोगों की तरक्की में हाथ बटाया(7)होम रेमेडी और भी हैं ,ब्लॉग विजिट करते रहें मिलते है एक छोटे से ब्रेक के बाद

कुल पेज दृश्य

मेरे बारे में

समर्थक

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

FLAG COUNTER

free counters

मंगलवार, 1 मार्च 2011

ATPATE SAWAL - CHATPATE JAWAB

0१.गल्लां गोरियां दे विच टोये,क्यूँ होए?
     तुसी चुंडी वड्डी ते ओहो रोये
     हजु सम्भालन वास्ते होय टोये
0२.हमें रात को मछर बहुत काटतें है.क्या करे ?
     दिन में मौका दिया करो ना
0३.५ का पहाडा पड़कर ही क्यों घडी में टाइम देखना सिखाया जाता है ? ६ का क्यूँ नहीं?
     ताकि छटी का दूध याद ना आ जाये.
0४.जुकाम में छीकें क्यूँ आती हैं ?
     इसकी आवाज़ सुन कर दूसरे सावधान हो जाएँ 
0५.मेरा मोटापा बहुत बढ रहा है क्या करू ?
     वजन तुलवा लो 
0६.जोगी जी ,सभी आदमिओं का स्वभाव एक सा क्यों नहीं होता?
     एक सा हीं रखना होता तो इतने आदमी बनाने की ज़रुरत ही क्या थी 
0७. दुनियां में सबसे महान कौन है ?
     मेरे होते  हुए ये सवाल पूछने की ज़रुरत ही नहीं है भाई 
0८.जोगी जी यदि आप पागल होते तो आपका पागलखाना कहाँ होता?
     जी,जहाँ आप खाना खिलाते वहीँ होता जी ,मेरा पागल-खाना
0९.आपकी पत्नी सवालों का ज़वाब देने कब आ रही है ?
     कभी नहीं ,क्योंकि वो ज़बाव देती नहीं सिर्फ सवाल पूछती है 
१०.यदि बरसात में मोर नाचे तो ?
    तो समझो एक मोर और आने वाला है 
११. जगत मामां कोंन है ?
    चाँद मामां
१२.दिल नूं लग जांन रोग तां की करिए ?
     बधाई,हूँ तुसीं सवाल पुछन लई वेल्ले हो गए हों
१३.लोग मुझे काँटा समझ कर क्यूँ फेंक देते है?
     आप चुभते ज्यादा होंगे जी .
१४.आजकल बच्चे माँ-बाप की सेवा क्यूँ नहीं करते ?
     वे भी अपने माता-पिता के पद चिन्हों पर चलतें हैं ,वे अपने बच्चों की सेवा करने लगतें है
१५.अगर तारे नीचे,धरती ऊपर होती तो हमारे पैर कहाँ होते ?
     ऊपर होते जैसे रात को होते हैं 
१६. यदि अब हीर होती तो ?
      फिर मुझे आपके सवालों के ज़बाव देने का समय ही नहीं मिलाता 
१७.मेरी पत्नी मुझ से रूठ कर पीहर चली गयी है क्या करूँ ?
      आप अपनी ससुराल चले जाईये 
१८.चिड़िया क्यूँ उड़ती है ?
     चुगे को चुगने के लिए
       

3 टिप्‍पणियां: