लिखिए अपनी भाषा में

SCROLL

FREE होम रेमेडी पूछने के लिए फ़ोन करें 09414989423 ( drjogasinghkait.blogspot.com निशुल्क - मनोरंजन हेतू ब्लोग देखे atapatesawaldrkait.blogspot.com निशुल्क - myphotographydrkait.blogspot.com ) (१)व्यक्ति पहले धन पाने के लिए सेहत बरबाद करता है ,फिर सेहत पाने के लिए धन बरबाद करता है (२)अपने आप को बीमार रखने से बढ कर कोई पाप नहीं है (३)खड़े-खड़े पानी पीने से घुटनों में दर्द की शिकायत ज़ल्दी होती है ,बैठ कर खाने- पीने से घुटनों का दर्द ठीक हो जाता है (४)भोजन के तुरंत बाद पेशाब करने की आदत बनायें तो किडनी में तकलीफ नहीं होगी (५)ज़बडा भींच कर शौच करने /पेशाब करने से हिलाते हुए दांत/दाड़ पूरी तरहां से जम जाते हैं (६)महत्त्व इस बात का नहीं की आप कितना ऊँचा उठे हैं (तरक्की की ),महत्त्व इस बात का है की आपने कितने लोगों की तरक्की में हाथ बटाया(7)होम रेमेडी और भी हैं ,ब्लॉग विजिट करते रहें मिलते है एक छोटे से ब्रेक के बाद

कुल पेज दृश्य

मेरे बारे में

समर्थक

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

FLAG COUNTER

free counters

बुधवार, 8 जून 2011

FUNY ARTICAL "AGAR AADAMI KE SEENG HOTE"















"AGAR AADAMI KE SEENG HOTE"
"अगर आदमीं के सींग होते.. तो ?????
           क्या होता ??????
(१)अस्पताल में सींग स्पेस्लिस्ट डॉ.की पोस्ट होती 
(२)कंपनियां हेयर प्रोडक्ट की बजाय सींग प्रोडक्ट बनाती
(३)नाई बाल सवारने के स्थान पर सींग सवारने का काम करते 
(४)पति -पत्नी भिड़ते तो सींग की मुरम्मत करने के लिए सैलून होते 
(५)दुकानों पर सींग को सजाने-सवारने का सामान बिकता 
(६)विशेष प्रकार के सींग कवर लगाने पड़ते 
(७)गरीब आदमी कपडे के कवर लगाता
(८)अमीर आदमी सोने -चांदी के कवर लगाता 
(९)महिलायों के लिए सूट के साथ मैच करने वाले कवर बनाने पड़ते 
(१०)महिलायों के लिए लेडी सींग स्पेस्लिस्ट डॉ होती ,आदमियों का डॉ ,
      बच्चों  का डॉ. अलग होता 
(११)बस में सामान रखने के लिए बनाये छज्जे हटाने पड़ते ,उसमे फंस कर 
     किसी का सींग टूट सकता था ,हरजाना भी रोडवेज को भरना पड़ता 
(१२)बस में लिखना पड़ता "सवारी अपने सींगों की खुद जिम्मेवार है "
(१३)अमिताभ बच्चन डाएलोग कुछ यूँ बोलते 
        "भाई सींग हों तो नथ्थू लाल जैसे हो ,वरना ना हो.."  
(१४)सलमान भाई शर्ट उतारकर सीना दिखने की बजाये कवर उतर कर 
       सींग दिखाते 
(१५)महिलाये कहती"हाय नी तेरे सींग तो बिपाशा से मिलतें है "
(१६)टीचर बच्चों को टांग तोड़ने की बजाए सींग तोड़ने की धमकी देते 
(१७)डाकुयों का सरदार सबसे बड़े सींग वाला होता 
(१८)गब्बर सिंह बोलता "ये सींग मुझे दे दे ठाकुर ...."
(१९)मुग़ले-आज़म में "शेखूऊ...तेरे सींगों से बगावत की बू आती है ....
(२०)कुछ लोग क्लीन शेव्ड के स्थान पर क्लीन्ड सींग घूमते
(२१)पशुयों को भगाने के लिए डंडे की ज़रुरत नहीं पड़ती 
(२२)फोटोग्राफर सींगों का एंगल सैट करके फोटो खींचता  
(२३)बच्चों के सींग टूट जाने पर माताएं चिंता करती डॉ.कहता -
      "चिंता मत करो दूध के सींग है ...फिर आ जायेंगे ..."
(२४)बच्चा रोता तो डॉ.कहता
        "सींग  उगने का दर्द है ..ये दवा देते रहो बिना दर्द के सींग उग जायेंगे "
(२५)सींगों को रंगने के लिए अलग-अलग प्रकार के रंग मिलते 
(२६)नाई पूछता "क्या बात है जोगा सिंह जी लगाता है भाभी जी से झगडा हो गया 
      सींगों पर खरोंच भी है, और क्रेक  भी है,भरना पड़ेगा 
(२७)रिश्ता करते समय सींगों को विशेष प्राथमिकता दी जाती 
(२८)खास बात ये भी की सभी को दो सींग के साथ एक-एक पूंछ फ्री मिलती
                           ------:::::::::::::::उपसंहार ::::::::-------
      बातें तो और भी बहुत है श्रीमान ,वैसे अच्छा ही होता यदि आदमी के सींग होते 
      क्योंकि आजकल आदमी का पता ही नहीं चलता कि उसके मुंह क्या है ,बगल 
      मे क्या है ?दिल में  क्या है ,नज़र कहाँ है ,थोथा रोभ है या दमदार ,इत्यादी -२
      ये सब कुछ पूंछ हिलाने के तरीके से पता चल जाता ,सींग हिलाने के तरीके से 
      पता चल जाता .
                             इसलिए आयो हम सब प्रार्थना करे हे प्रभु हमारे फिर से सींग 
      लगादे,ताकि पूंछ भी फ्री मिल जाये 
      (ये भी हो सकता है कुछ मानव विरोध में भी प्रार्थना करे,क्यों कि उनका काम 
        इसी आधार पर ही तो चलता है ,पोल खुलने का भय भी तो बना रहेगा ना )

2 टिप्‍पणियां:

  1. डॉ. मुकेश राघव , बीकानेरबुधवार, जून 08, 2011 1:45:00 pm

    डॉ. जोग सिंह जी , अगर आदमी के सिंग होते तो औरत होते , फिर शादी शुदा आदमिओं की तो खैर नहीं थी , प्रभु इतना निर्दयी नहीं है , हाँ अगर मान लें होते , तो वास्तव में सिंगो का डाक्टर ही बनता और दुनिया में पहला ऐसा डाक्टर होता , आपकी सोच और लेखनी के लिए साधुवाद .
    सादर .

    उत्तर देंहटाएं