लिखिए अपनी भाषा में

SCROLL

FREE होम रेमेडी पूछने के लिए फ़ोन करें 09414989423 ( drjogasinghkait.blogspot.com निशुल्क - मनोरंजन हेतू ब्लोग देखे atapatesawaldrkait.blogspot.com निशुल्क - myphotographydrkait.blogspot.com ) (१)व्यक्ति पहले धन पाने के लिए सेहत बरबाद करता है ,फिर सेहत पाने के लिए धन बरबाद करता है (२)अपने आप को बीमार रखने से बढ कर कोई पाप नहीं है (३)खड़े-खड़े पानी पीने से घुटनों में दर्द की शिकायत ज़ल्दी होती है ,बैठ कर खाने- पीने से घुटनों का दर्द ठीक हो जाता है (४)भोजन के तुरंत बाद पेशाब करने की आदत बनायें तो किडनी में तकलीफ नहीं होगी (५)ज़बडा भींच कर शौच करने /पेशाब करने से हिलाते हुए दांत/दाड़ पूरी तरहां से जम जाते हैं (६)महत्त्व इस बात का नहीं की आप कितना ऊँचा उठे हैं (तरक्की की ),महत्त्व इस बात का है की आपने कितने लोगों की तरक्की में हाथ बटाया(7)होम रेमेडी और भी हैं ,ब्लॉग विजिट करते रहें मिलते है एक छोटे से ब्रेक के बाद

कुल पेज दृश्य

मेरे बारे में

समर्थक

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

FLAG COUNTER

free counters

रविवार, 10 जुलाई 2011

FREE SEMINAR-NEWS(SHRI KARAN PUR)

आज दिनांक ०९-०७-२०११ को डी.ए.वी.स्कूल (मौड़)श्री करण पुर,
प्राचार्य श्री गोपाल कृष्ण बागी


ज्ञानज्योति स्कूल श्री करण पुर,
ज्ञानज्योति स्कूल श्री करण पुर के प्राचार्य श्री रिछपाल सिंह जी




अमर ज्योति स्कूल श्री करण पुर






 में डॉ.जोगा सिंह कैत ने निशुल्क प्राकृतिक चिकित्सा पर सेमिनार
 का आयोजन किया.इसमें स्कूल के बच्चों /बच्चियों को बताया गया
 कि हम बीमार कैसे होतें हैं,बीमार होने से हम बच्चें कैसे और बीमार
 होने के बाद घरेलु नुसकों से हम कैसे स्वस्थ हो सकतें हैं,बच्चों ने
 इसे बड़े चाव,जिज्ञासा,रूचि और मनोयोग से सुना,नोट किया और 
अपनी -अपनी स्वास्थ्य सम्बंधित समस्यायों के बारे मैं समाधान 
प्राप्त किये.
डॉ. कैत ने इसके अलावा रक्तदान,नेत्र दान,वृक्ष रोपण वा उनका संरक्षण
 पर जोर दिया.साथ ही कन्या भ्रूण हत्या रोकने,राजस्थानी को मान्यता
 दिलाने  की मुहीम को आगे बढ़ाने की अपील की .  
इस अवसर पर डी.ए.वी.स्कूल (मौड़)श्री करण पुर के 
डायरेक्टर श्री अनिल अरोड़ा,प्राचार्य श्री गोपाल कृष्ण बागी,
ज्ञानज्योति स्कूल श्री करण पुर के प्राचार्य श्री रिछपाल सिंह जी,
अमर ज्योति स्कूल श्री करण पुर के डायरेक्टर सरदार श्री हरभजन सिंह जी,
प्राचार्य श्री चन्द्र मोहन जी ने डॉ. कैत को धन्यवाद,और स्मृति चिन्ह व
 प्रशस्ति - पत्र देकर सम्मानित किया 

3 टिप्‍पणियां:

  1. आपने सेमिनार का आयोजन करके बच्चों को बहुत ही अच्छी शिक्षा दी है! सुन्दर तस्वीरों से सुसज्जित अनुपम प्रस्तुती!

    उत्तर देंहटाएं
  2. डॉक्टर साहब आपसे एक बात पूछनी है! दंडरफ से कैसे राहत मिल सकता है? शैम्पू से दंडरफ नहीं जाता है बल्कि फिर वापस आ जाता है! आप कुछ नुस्का बताइए जैसे आपने बाल हटाने का बताया!

    उत्तर देंहटाएं