लिखिए अपनी भाषा में

SCROLL

FREE होम रेमेडी पूछने के लिए फ़ोन करें 09414989423 ( drjogasinghkait.blogspot.com निशुल्क - मनोरंजन हेतू ब्लोग देखे atapatesawaldrkait.blogspot.com निशुल्क - myphotographydrkait.blogspot.com ) (१)व्यक्ति पहले धन पाने के लिए सेहत बरबाद करता है ,फिर सेहत पाने के लिए धन बरबाद करता है (२)अपने आप को बीमार रखने से बढ कर कोई पाप नहीं है (३)खड़े-खड़े पानी पीने से घुटनों में दर्द की शिकायत ज़ल्दी होती है ,बैठ कर खाने- पीने से घुटनों का दर्द ठीक हो जाता है (४)भोजन के तुरंत बाद पेशाब करने की आदत बनायें तो किडनी में तकलीफ नहीं होगी (५)ज़बडा भींच कर शौच करने /पेशाब करने से हिलाते हुए दांत/दाड़ पूरी तरहां से जम जाते हैं (६)महत्त्व इस बात का नहीं की आप कितना ऊँचा उठे हैं (तरक्की की ),महत्त्व इस बात का है की आपने कितने लोगों की तरक्की में हाथ बटाया(7)होम रेमेडी और भी हैं ,ब्लॉग विजिट करते रहें मिलते है एक छोटे से ब्रेक के बाद

कुल पेज दृश्य

मेरे बारे में

समर्थक

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

FLAG COUNTER

free counters

मंगलवार, 15 जनवरी 2013

अगर आदमी के सींग होते ????

1.नाई की दुकान नहीं होती
2. नाई की दुकान के स्थान पर सींग सवारने की दुकान होती 
3.सींग ढकने के लिए बाज़ार में सामान मिलता,अमीर  से लेकर गरीब              तक के लिए ,कपडे से लेकर सोने तक का  
4.बस में सामान रखने का छज्जा नहीं होता ,उसमे फंसकर किसी का सींग टूट सकता था 
5.पति - पतनी की लडाई में सींग ही टूटते 
6.अस्पताल में एक डॉ,"सींग स्पेस्लिस्ट " रखना  पड़ता
7. कंग्घी बनाने की ज़रुरत नहीं पड़ती 
8.गंजों को विशेष लाभ मिलता ,पता ही नहीं चलता की बाल उड़ गए 
9.सिर पर कपड़ा बांधना मुश्किल होता 
10बच्चों के सींग ना उगने पर माँ परेशान होकर डॉ के पास जाती
11.सुंदर सींग वाले की शादी ज़ल्दी होती 
12.विशेष कर आदमी को जानवरों से भी लगाव रहता,उनकी पीड़ा समझता 
13 फिर आप मेरे सींग देखकर मेरा मजाक न उड़ाते ,...
14 अभी और बहुत कुछ बाकी है ...

शायद  आप समझकर कमेट करें 
(आपके कमेंट का इंतज़ार रहेगा )
(व्यंग लेख - डॉ जोगा सिंह कै जोगी ) 

1 टिप्पणी:

  1. I constantly emailed this blog post page to all my associates,
    for the reason that if like to read it after that my
    friends will too.
    Also visit my blog post : excercises for tmj

    उत्तर देंहटाएं