लिखिए अपनी भाषा में

SCROLL

FREE होम रेमेडी पूछने के लिए फ़ोन करें 09414989423 ( drjogasinghkait.blogspot.com निशुल्क - मनोरंजन हेतू ब्लोग देखे atapatesawaldrkait.blogspot.com निशुल्क - myphotographydrkait.blogspot.com ) (१)व्यक्ति पहले धन पाने के लिए सेहत बरबाद करता है ,फिर सेहत पाने के लिए धन बरबाद करता है (२)अपने आप को बीमार रखने से बढ कर कोई पाप नहीं है (३)खड़े-खड़े पानी पीने से घुटनों में दर्द की शिकायत ज़ल्दी होती है ,बैठ कर खाने- पीने से घुटनों का दर्द ठीक हो जाता है (४)भोजन के तुरंत बाद पेशाब करने की आदत बनायें तो किडनी में तकलीफ नहीं होगी (५)ज़बडा भींच कर शौच करने /पेशाब करने से हिलाते हुए दांत/दाड़ पूरी तरहां से जम जाते हैं (६)महत्त्व इस बात का नहीं की आप कितना ऊँचा उठे हैं (तरक्की की ),महत्त्व इस बात का है की आपने कितने लोगों की तरक्की में हाथ बटाया(7)होम रेमेडी और भी हैं ,ब्लॉग विजिट करते रहें मिलते है एक छोटे से ब्रेक के बाद

कुल पेज दृश्य

मेरे बारे में

समर्थक

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

FLAG COUNTER

free counters

मंगलवार, 2 अप्रैल 2013

लिवर फिट तो बॉडी हिट

                                             लिवर फिट तो बॉडी हिट



अक्सर कहा जाता है कि अगर लिवर फिट होगा तो बॉडी हिट रहेगी क्योंकि लिवर की खराबी का असर पूरी बॉडी पर पडता है। लिवर आयरन, विटामिन्स व मिनरल्स का स्टोर हाउस है। शरीर के मेटाबॉलिज्मव (चयापचय क्रिया) में इसका बहुत महत्व है। यह बाइल ल्यूरस बनाता है, जिससे खाना पचाने में मदद मिलती है। यहीं रक्त कोशिकाओं का निर्माण होता है। आइए हम आपको बताते है कि ऐसा क्यों कहा जाता है अगर आपका लिवर फिट होगा तो बॉडी हिट रहेगी इसके लिए सबसे पहले आपको यह जानना होगा लिवर आपकी बॉडी में क्या भूमिका निभाता है और यह कैसे आपके शरीर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

क्यों है जरूरी
लिवर अपने अंदर आयरन और जरूरी विटामिन्स व मिनरल्स स्टोर करने का काम करता है। अत: लिवर ही आगे बढ़ने व शरीर के सारे कामों को करने की ताकत आपको देता है।
लिवर ही शरीर के अंदर प्रवेश करने वाले जहरीले पदार्थो से शरीर को मुक्त करने का काम करता है। शराब, बियर, ड्रग्स जैसे केमिकल्स से यही बचाता है।
लिवर अपने अंदर ऊर्जा बनाए रखता है। खासकर इसके अंदर शुगर (कार्बोहाइड्रेट्स, ग्लूकोज और फैट्स) स्टोर रहते हैं, जिससे यह एक बैटरी की तरह काम करता है। यही कारण है कि जब आपका कई बार व्रत होता हैं या पर्याप्त मात्रा में शकरयुक्त पदार्थ नहीं लेते तो भी आवश्यकतानुसार ऊर्जा आपको लिवर के जरिये मिल जाती है।
लिवर का काम पूरे शरीर की मेटाबॉलिज्म (चयापचय क्रिया) को नियंत्रित करना है जो कुछ भी खाया पिया जाता है इस तक पहुंचता है और फिर वह उनमें से जरूरी तथा गैर जरूरी, में बांटकर उनका इस्तेमाल सुनिश्चित करता है। जरूरी तत्वों को रक्त के जरिये शरीर अन्य भागों तक तथा गैर जरूरी तत्वों को शरीर से बाहर निकालने के लिये उपयुक्त अंगो तक पहुंचाता है। इसके अलावा आपके शरीर में अनावश्यक पदार्थ को बाहर निकालना काफी मुश्किल होगा।
लिवर में खून या रक्त कोषिकाएं बनती हैं, जो हमारे जीवन के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है।
लिवर बाइल ल्यूस बनाता है, जिससे खाने को पचाने में मदद मिलती है।
लिवर ही जरूरी व नए प्रोटींस का निर्माण करता है, जिससे आप स्वस्थ तरीके से बढ़ सकते हैं। इसके बिना आपकी सही तरीके से बढ़ भी नहीं हो सकते।
लिवर ही हवा में घुले जहरीले पदार्थो को शरीर में प्रवेश करने पर साफ करता है, जिससे ये आपके अंदर जहर के फैलाव को आसानी से होने से रोकता है।
दुर्घटना या चोट की स्थिति में लिवर खून को जमाता है, ताकि अधिक खून बहने से कमजोरी न आए।
लिवर ही आपके अंदर प्रवेश करने वाले कीटाणुओं से रक्षा करता है। या तो ये इन्हें कमजोर कर देता है या मार देता है। ऐसा नहीं होता तो आप आसानी से संक्रमण के शिकार बन जाते।

4 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    --
    इंजीनियर प्रदीप कुमार साहनी अभी कुछ दिनों के लिए व्यस्त है। इसलिए आज मेरी पसंद के लिंकों में आपका लिंक भी चर्चा मंच पर सम्मिलित किया जा रहा है और आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल बुधवार (03-04-2013) के “शून्य में संसार है” (चर्चा मंच-1203) पर भी होगी!
    सूचनार्थ...सादर..!

    उत्तर देंहटाएं

  2. लिवेअर से संबन्धित जानकारी के लिये बहुत-बहुत धन्यवाद.
    साथ ही हम सबको,उस रचनाकार को नमन करना चाहिये,
    जिसने खूबसूरती के साथ-साथ,हमें जीने के लिये,शरीर दिया
    जिस्की और मिसाल नहीं.
    एक संदेश,इस पोस्ट के माध्यम से कि,इस शरीर को पूज्यनीय
    बनायं,सार्थक करें जीवन को.धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं

  3. लिवर से संबन्धित दी गई जानकारी के लिये धन्यवाद.

    एक संदेश हम सभी के लिये कि रचनाकार के प्रति आभारित होने का व उस्के द्वारा दी गई,शरीर-रूपी नियामत को सहेजने का,ताकि हम जीवन को सार्थक रूप से जी सकें.

    उत्तर देंहटाएं